मीडिया हाउस ब्यूरो

हरिद्वार। नेशनल वेंडर डेवलपमेंट प्रोग्राम, एमएसएमई, सिडकुल मैन्यूफैक्चर्स एसोसिएशन और राज्य सरकार के संयुक्त प्रयास से आयोजित इंडस्ट्रियल एकस्पो 2017 छोटे उद्यमियों को नयी राह दिखा गया। यहां नये उद्यमी लघु उद्योगों से रूबरू हुए तो मध्यम उद्योगों का समन्वय लघु और सूक्ष्म उद्योगों से हुआ। एकस्पो का यह अनूठा प्रयास इस मायने में सफल रहा।

आयोजक एसएमएयू के प्रदेश अध्यक्ष हरेन्द्र गर्ग कहते हैं कि उनका प्रयास सूक्ष्म, लघु व मध्यम उद्योागों को प्रोत्साहन के साथ उनका आपस में समन्वय करना था जिसमें वे काफी हद तक सफल रहे। यहां इंडस्ट्रियल एक्सपो में 172 उद्योगो, बैंक, सिडबी और अन्य उपक्रमों के स्टाल लगाए गए थे जिनका स्थानीय स्तर पर व्यापार कर रहे लोगों ने भी लाभ लिया।
यहां उद्योग लगाने वाले उद्यमियों के लिए कार्यशालाओं का आयोजन भी किया गया। सिडबी और सरकार के कई उपक्रमों ने उद्यमियों को सुविधाएं देने के बारे में भी जागरूक किया।

बताते चलें कि हरिद्वार जनपद में लगभग 2000 उद्योग स्थापित हैं तथा अकेले सिडकुल हरिद्वार में 550 की संख्या में उद्योग लगे हुए हैं। ऐसे में एकस्पो 2017 की महत्ता का अंदाजा स्वत: ही लगाया जा सकता है।

देखिए क्या कहते हैं इंडस्ट्रियल एक्सपो 2017 पर लोकप्रिय उद्योगपति हरेन्द्र गर्ग

एक्सपो 2017 में 172 उद्योगो, बैंक, सिडबी और अन्य उपक्रमों के स्टाल लगाए गए थे जिनका स्थानीय स्तर पर व्यापार कर रहे लोगों ने भी लाभ लिया। /mediahouse.news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here